प्लास्टिक की बारिश हो रही है और हम भी इसे नहीं देख सकते हैं!

प्लास्टिक की बारिश हो रही है और हम भी इसे नहीं देख सकते हैं!

प्लास्टिक की बारिश हो रही है और हम भी इसे नहीं देख सकते हैं!

यह प्लास्टिक की बारिश हो रही है-सचमुच! 1,100 टन माइक्रोप्लास्टिक किसी भी क्षण अमेरिका के आसमान में तैरते रहे। माइक्रोप्लास्टिक तेजी से प्रजातियों में पाया जा रहा है और हाल ही में एक मानव अपरा में देखा गया ।

नई मॉडलिंग राष्ट्रीय विज्ञान अकादमी की कार्यवाही में प्रकाशित किया गया था और पता चला है कि पश्चिमी संयुक्त राज्य अमेरिका में हवाई माइक्रोप्लास्टिक के ८४ प्रतिशत प्रमुख शहरों के बाहर सड़कों से आया था ।

एक अतिरिक्त 11 प्रतिशत संभावित समुद्र से आने वाली हवाओं से आया था । मॉडल के पीछे शोधकर्ताओं का यह भी मानना है कि माइक्रोप्लास्टिक कम से एक सप्ताह तक हवाई रहते हैं ।

मनुष्यों पर नीचे बारिश हो रही कणों 5 मिलीमीटर से छोटे है और प्लास्टिक की थैलियों और बोतलों कि जलमार्ग में फेंक रहे है सहित कई स्रोतों को वापस पता लगाया जा सकता है । समय के साथ, ये छोटे टुकड़ों में टूट जाते हैं।

अध्ययन एक और स्रोत के रूप में वाशिंग मशीन का हवाला दिया, सिंथेटिक कपड़े के लिए हर धोने के बाद छोटे माइक्रोफाइबर जारी है, जो तो पानी में हैं ।

प्लास्टिक जो महासागर में जारी किए जाते हैं, समय के साथ छोटे टुकड़ों में विघटित हो जाते हैं लेकिन कभी भी पूरी तरह से गायब नहीं होते हैं। अब भी सागर में माइक्रोप्लास्टिक की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है।

माइक्रोप्लास्टिक समुद्री जीवन को खतरा बना हुआ है और अगर बड़ी मात्रा में सेवन किया जाता है तो मनुष्यों के लिए खतरा भी पैदा हो सकता है । प्लास्टिक प्रदूषण को महासागरों का प्रमुख प्रदूषक माना जाता है और पिछले कुछ दशकों में महासागरों में प्लास्टिक कचरे के कई पैच उभरे हैं ।

प्लास्टिक की बारिश हो रही है और हम भी इसे नहीं देख सकते हैं!

Leave a Reply

Scroll to top